Friday, August 24, 2018

दीपावली पर कविता 2018 ( Short poems on Diwali in Hindi font )

दीपावली पर कविता 2018 ( Poems on Diwali in Hindi ) :

दोस्तों , मैं आपका स्वागत करता हु हमारी  वेबसाइट www.happydiwali2018celebration.in पे  , आज के इस लेख में मैं आपके साथ दीपवाली पर  कविता ( Diwali poems in Hindi ) शेयर करने जा रहा हु |

जैसा की हम सब जानते है दीपावली रौशनी का त्योहार है , यह अपने साथ सुख-समृद्धी , ऐश्वर्य , और खुशियां लाता है |

बच्चे इस त्योहार का बेसब्री से इंतजार करते है , कुछ  विद्यार्थियों दीपावली के इस पावन पर्व को ( जो बुराई पे अच्छाई की जीत का प्रतिक है ) अपने ही तरीके से मानते है  |  वह दीपावली पर कविता लिखते है और अपने अध्यापको को दिखाते  है ,  जिससे वह भी प्रशन्न हो जाते है | 

यह देखते हुए मैं आज आपके साथ , कुछ सबसे बेहतरीन  दीपावली की कविता 2018  शेयर करने जा रहा हु , अगर आपको भी यह पसंद आये तो आप हमे कमेंट सेक्शन में  जरूर  बताये


poems-on-diwali-in-hindi-2018

दीपावली पर बाल कविता

दीप जलाओ दीप जलाओ , आज दिवाली रे
खुशी - खुशी  सब हस्ते जाओ , आज दिवाली रे | 

मै तोह लूंगा खेल-खिलौने तुम भी लेना भाई
नाचो गाओ खुशी मनाओ , आज दिवाली रे | 

आज पटाख़े खूब चलाओ , आज दिवाली रे
दीप जलाओ दीप जलाओ , आज दिवाली रे | 

नए- नए कपडे मैं पहनू , खाओ खूब मिठाई
हाथ -जोड़कर पूजा कर लू  , आज दिवाली रे | 

खाओ मित्रो खूब मिठाई , आज दिवाली रे
दीप जलाओ दीप जलाओ , आज दिवाली रे | 

आज दुकाने खूब सजी है ,   घर भी जगमग करते
झिलमिल - झिलमिल  दीप जले है , कितनी अच्छे लगते | 

आओ नाचो ख़ुशी मनाओ , आज  दिवाली रे
दीप जलाओ दीप जलाओ , आज दिवाली रे | 

दिवाली पर कविता 2018 ( Short Poetry on Diwali in Hindi font )

दिवाली के दीपक जगमागए आपके आँगन में।,
सात रंग सजे इस साल आपके आंगन में
आया है यह त्योहार खुशियां लेके ,
हर ख़ुशी सजे इस साल आपके आंगन में 
रौशनी से हो रोशन हर लम्हा आपका 
हर रौशनी सजे इस साल आपके आंगन पे 
दुआ हम करते है , आप  सलामत रहे ,
हर दुआ सजे इस साल  आपके आंगन में | 

Short poem on Diwali in Hindi 2018 ( दीपावली पर हिंदी कविता )

दीपावली पर्व है पुरुषार्थ का ,
दीप  के दिव्यार्थ का ,
देहरी पे दीप एक जलता रहे ,
अंधकार से यह युद्ध चलता रहे
हारेगी हर बार अंधियारे की घोर कालिमा ,
जीतेंगे जगमग उजियारे की स्वर्ण लालिमा ,
दीप ही ज्योति का  प्रथम तीर्थ है ,
कायम रहे इसका अर्थ वार्ना  व्यर्थ है ,
आशीषो की मधुर छाव इसे दे दीजिये ,
शुभकामना हमारी ले लीजिये
झिलमिल रौशनी से निवेदित अविरल शुभकामनाये
आस्था के अलोक में आदरयुक्त मंगल भावना


Diwali Poems in Hindi for class 1,2,3,4,5

दीपो का त्योहार दिवाली
खुशियों का त्योहार दीपावली
वनवास पूरा कर आये श्रीराम
अयोध्या का मन भये श्रीराम
घर घर सजे , सजे है आंगन
जलते पटाखे , फुलझड़ियाँ बम
लक्ष्मी गणेश का पूजन करे लोग ,
लड्डुओं का लगाते है भोग
पहन नए कपडे बाटते  है मिठाई ,
देखो देखो दीपावली आयी


Poem on Diwali in Hindi font ( दीपावली 2018 पर कविताएं )

दिवाली आयी  दिवाली आयी खुशियों  की बहार है लाई
धूम - धमक ,  धूम-धूम चकरी
 बम हवाई इनसे बचना भाई
दिवाली आये दिवाली आयी खुशियों  की बहार है लाई
पटाखे बजे धूम-धाम , धूम-धाम
नाचे  गाए  हम और तुम
घर -घर दीप जलेंगे आएगी   मिठाई
दिवाली आये दिवाली आयी खुशियों  की बहार है लाई
धूम -धमक , धूम -धूम चकरी बम हवाई इनसे बचना भाई
दिवाली आयी  दिवाली आयी

यह भी पढ़े : शुभ दीपावली शायरी 2018 


Video credits: Hindi kids rhyme 



Searched keywords :
  • दीपावली  पर बाल कविता
  • Poem on Diwali in Hindi font
  • दीपावली की कविता
  • दीपावली पर कविता 2018

अगर आपको दिवाली की यह कविता अच्छी लगी है , तोह इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर कारण आना भूले


Share:

0 comments:

Post a Comment

Copyright © Happy Diwali 2018 Wishes , Images and Status | Powered by Blogger Design by ronangelo | Blogger Theme by NewBloggerThemes.com